एक्स फुटबॉल लीग

Publishing time:2021-10-24 22:59:58

ऑनलाइन पोकर बनाम कंप्यूटर एक्स फुटबॉल लीग betway समीक्षा,लियोवेगैस मुक्त शर्त,lovebet प्रत्येक हाफ में एक लक्ष्य,lovebet लीगल इन इंडिया,lovebet वेलेमेन्येकी,एक शतरंज बोर्ड सेटअप,बैकरेट चेंज कार्ड बॉक्स,बैकारेट रूज 540,बेटफ़ेयर या लवबेट,कैसीनो 0 गेविन,कैसीनो Quora,Chess.com apk,क्रिकेट फंतासी ऐप,डीडी स्पोर्ट्स इंडिया मलेरकोटला पंजाब,यूरोपीय कप ऑड्स क्वेरी,फुटबॉल एच एंड एम,गेमिंग गेम्स,एचबी लॉटरी,इंडिबेट यूट्यूब,जैकपॉट गोल्डन,लाइव बैकरेट वीडियो गेम,लाइव रूले लंदन,लॉटरी परिणाम रात,मोबाइल फुटबॉल लाइव स्कोर URL,ऑनलाइन कैसीनो लाइटनिंग रूले,ऑनलाइन महजोंग हॉल,ऑनलाइन वीडियो स्लॉट असली पैसा,पोकर पृष्ठभूमि,पूल रम्मी उपयोगकर्ता पुस्तिका,शाही खेल,रमी मोबाइल वेबसाइट,साइटस जूडी १८८बेट,स्लॉट राम का उपयोग करते हैं,खेल आप घर पर अकेले खेल सकते हैं,तीन पत्ती विजेता APK,पोकर सामाजिक,युद्ध थंडर पोकर,विश्व कप स्कोर रिकॉर्ड,आईपीएल जीतने का तरीका,कैसिनो की रात,खेलो पर जुआ text,जोकर नाचा,फुटबॉल ग्राउंड साइज,बेटा गाना भोजपुरी,लूडो डाउनलोड ऑनलाइन,स्पोर्ट्स इन सिक्किम इन हिंदी, .सैलरी और पर्क्‍स के पेमेंट के लिए कंपनियों ने शुरू किया क्रिप्‍टोकरेंसी का इस्‍तेमाल

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

सैलरी और पर्क्‍स के पेमेंट के लिए कंपनियों ने शुरू किया क्रिप्‍टोकरेंसी का इस्‍तेमाल

क्रिप्‍टोकॉइन में पेमेंट की योजना बनाने वाली कंपनियों ने खुद को क्रिप्‍टो-फ्रेंडली देशों में रजिस्‍टर कराया है.
हाल के कुछ समय में युवाओं की क्रिप्‍टोकरेंसी में दिलचस्‍पी बढ़ी है. इसे देखते हुए नए युग की टेक्‍नोलॉजी कंपनियां ऐसे कर्मचारियों को उनकी सैलरी का कुछ हिस्‍सा, बोनस या अन्‍य इंसेंटिव क्रिप्‍टोकरेंसी में दे रही हैं. कंपनियों के लिए यह पेमेंट का आसान और तेज तरीका है. वहीं, क्रिप्‍टोकरेंसी के बढ़ते मूल्‍य कर्मचारियों को लुभा रहे हैं.

कंपनियों ने इसके लिए दो तरीके अपनाएं हैं. पहला, खुद को क्रिप्‍टो-फ्रेंडली देशों में रजिस्‍टर कराना और कानूनी या टैक्‍स संबंधी अड़चनों से कर्मचारियों को बचाने के लिए क्रिप्‍टोकरेंसी में उन्‍हें पेमेंट करना है. दूसरा, पेमेंट का रिकॉर्ड रुपये में ट्रांजैक्‍शन के तौर पर अपने बहीखातों में दर्ज करना है.

इसे भी पढ़ें : फ्रेशर्स के लिए मौका, कंपनियां बड़े पैमाने पर कर रही हैं भर्ती

यह कैसे काम करता है?
- क्रिप्‍टो कॉइन में पेमेंट की योजना बनाने वाली कंपनियों ने खुद को क्रिप्‍टो-फ्रेंडली देशों में रजिस्‍टर कराया है.
- कंपनियों ने यह भी सुनिश्चित किया है कि रुपया क्रिप्‍टो कॉइन में कन्‍वर्ट हो सके और रुपये ट्रांजैक्‍शन के तौर पर पेमेंट रिकॉर्ड हों.
- ऐसी ज्‍यादातर कंपनियां टीथर (यूएसडीजी) का इस्‍तेमाल करती हैं. ये ज्‍यादा स्थिर क्रिप्‍टोकरेंसी हैं. इसका कन्‍वर्जन 1 डॉलर से सीधे 1 यूएसडीटी में हो जाता है.
- अन्‍य इथीरियम, प्‍लास टोकन और ऑडियो कॉइन में पेमेंट करती हैं.

देश में स्थिति नहीं है साफ
देश में क्रिप्‍टोकरेंसी को लेकर स्थिति बहुत साफ नहीं है. कर्मचारी और कंपनियां दोनों इसे लेकर टैक्‍स के बारे में चिंतित हैं. चेन एसेट्स कैपिटल नाम के क्रिप्‍टो हेज फंड के प्रमुख उपिंदर प्रीत सिंह ने कहा कि भारत में क्रिप्‍टोकरेंसी की मान्‍यता को लेकर बहुत से नियम हैं. इनमें स्‍पष्‍टता का भी अभाव है.

पटना में रहने वाले कंसल्‍टेंट सुजीत कुमार ने कहा, ''क्रिप्टोकरेंसी एक्‍सचेंज के जरिये ऑल्‍टकॉइन को भुनाने के बाद मैंने इस रकम को टैक्‍स रिटर्न में कंसल्‍टेंट फीस के तौर पर इनकम में दिखाया है.''

इसे भी पढ़ें : अगर आपके पास ये स्किल्‍स हैं तो नौकरी की नहीं है कमी

कुमार को इथीरियम, प्‍लास टोकन और ऑडियो कॉइन जैसे ऑल्‍टकॉइन का भुगतान होता है. इसे वह भारतीय क्रिप्‍टोकरेंसी एक्‍सचेंज के जरिये भुनाते हैं. वह कहते हैं, ''मैं अमूमन अपनी जरूरत के अनुसार कॉइंस को कन्‍वर्ट करता हूं. मेरे ज्‍यादातर क्‍लाइंट क्रिप्‍टोकरेंसी मार्केट में हैं. लिहाजा, ट्रांजैक्‍शन आसानी और तेजी से हो जाता है. मैंने पिछले साल का अपना बोनस भी क्रिप्‍टोकरेंसी के जरिये लिया है.''

एक क्रिप्‍टोकरेंसी न्‍यूज वेबसाइट के सीईओ ने कहा, ''हम जहां क्रिप्‍टाकरेंसी में सैलरी का भुगतान करते हैं, वहां नियमों का पूरा पालन किया जाता है. कर्मचारियों को रुपये में सैलरी स्लिप दी जाती है. यह कर्मचारियों की क्रिप्‍टो में सैलरी स्लिप की आशंका को दूर सकता है.''

क्‍या है सरकार का रुख?
केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने शनिवार को कहा कि सरकार गवर्नेंस में सुधार के लिए क्रिप्टोकरेंसी सहित नई तकनीकों पर विचार करने को तैयार है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद गवर्नेंस के विभिन्न पहलुओं में टेक्‍नोलॉजी को अपनाने के मजबूत समर्थक हैं. इससे पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा था कि सरकार अभी भी क्रिप्टोकरेंसी पर अपनी राय तैयार कर रही है.

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

क्रिप्‍टोकरेंसीप्‍लास टोकनट्रांजैक्‍शनसैलरी और पर्क्‍स का पेमेंटइथीरियम

ETPrime stories of the day

As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry
Aviation

As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry

11 mins read
Q2 FY22 preview: Tariff hikes to push Airtel’s growth; Jio’s modest outlook as Vi fights for its turf
Telecom

Q2 FY22 preview: Tariff hikes to push Airtel’s growth; Jio’s modest outlook as Vi fights for its turf

9 mins read
After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Investing

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
सैलरी और पर्क्‍स के पेमेंट के लिए कंपनियों ने शुरू किया क्रिप्‍टोकरेंसी का इस्‍तेमाल

पिछले साल से अब तक बड़े उतार-चढ़ाव हुए हैं. लोगों ने कोरोना की महामारी के कहर को देखा और अब जिंदगी को पटरी पर लौटते देख रहे हैं. शायद ही यह दौर भुलाए भूलेगा. हालांकि, इससे कई सबक भी मिले हैं. ये करियर में आगे बढ़ने में मदद कर सकते हैं. आइए, यहां उनके बारे में जानते हैं.नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) दोपहिया क्षेत्र की प्रमुख कंपनी होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (एचएमएसआई) अगले वित्त वर्ष में अपना पहला इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) उतारने की तैयारी कर रही है। एचएमएसआई के अध्यक्ष, प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) आत्सुशी ओगाता ने पीटीआई-भाषा से बातचीत में यह जानकारी दी। कंपनी देश में एक्टिवा और शाइन जैसे लोकप्रिय ब्रांड बेचती है। इस साल त्योहारी सीजन समाप्त होने के बाद कंपनी अपने डीलर भागीदारों से इलेक्ट्रिक स्कूटर की व्यवहार्यता के बारे में चर्चा शुरू करेगी। उन्होंने कहा कि एचएमएसआई ने अपनी मूल कंपनी जापान की होंडा मोटर कंपनीनेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.आईबीए ने बैंक कर्मचारी और अधिकारी संघों के साथ 11वीं द्विपक्षीय वेतनवृद्धि वार्ता नई सहमति के साथ सम्पन्न होने की बुधवार को घोषणा की.अगर आपके पास ये स्किल्‍स हैं तो नौकरी की नहीं है कमी

भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.डिजिटल इकनॉमी में नए टैलेंट की जरूरत होगी. आइए, यहां टॉप रिक्रूटमेंट फर्मों से उन स्किल्‍स के बारे में जानते हैं जो सबसे ज्‍यादा डिमांड में हैं.अगर आपके पास ये स्किल्‍स हैं तो नौकरी की नहीं है कमी

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


ऋतु बरसात
बैकारेट जीतने वाली चीट्स
रश क्रीक के लिए मछली पकड़ने के नियम
लियोवेगास गेल्ड ज़ुरुकफ़ोर्डर्न
betway टेलीग्राम ग्रुप
स्पोर्ट्सबुक जॉब माल्टा
lovebet 3 तरह से सट्टेबाजी
एनजे लॉटरी पिक 4
लाइव कैसीनो यॉर्क पीए
m.fun88 एशिया
फ्रूट पार्टी 2
ऑनलाइन कैसीनो खेल
जैकपॉट खोज dq11
रमी डाउनलोड करना है
कनाडा में ऑनलाइन कैसीनो
रूले नृत्य
बैकारेट जेनिथ
लॉटरी चेक करने वाला ऐप्स
स्लॉट 4 राजा
नवीनतम गेमिंग मशीन गेम
वीडियो बैकारेट मशीनें लास वेगास
बैकरेट मास्टर प्ले
संयुक्त राज्य अमेरिका में ऑनलाइन स्लॉट
ईमोशनल स्टेटस
शतरंज जे विल्सन निष्कासन
क्रिकेट history
बिक्री के लिए जुआ मशीनें